मध्य प्रदेशराज्य

Shivraj Cabinet की बैठक में इन अहम प्रस्तावों पर पर लगी मुहर,10 बड़े फैसले

भोपाल
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज सीएम शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक सम्पन्न हुई, इसमें एक दर्जन प्रस्तावों पर चर्चा के बाद मुहर लगाई गई है। आज मंगलवार को मंत्रालय में हुई इस कैबिनेट बैठक में कई अहम निर्णय लिए गए।

बैठक की ब्रीफिंग करते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि कैबिनेट में 2 फरवरी को दिल्ली में बने नए मप्र भवन का लोकार्पण होगा। सभी मंत्री दिल्ली में रहेंगे, उसी दिन मंत्रिमंडल की बैठक भी दिल्ली में होगी।5 से 25 फरवरी तक निकलने वाली विकास यात्रा की समीक्षा 5 फरवरी के पहले करने के सभी मंत्रियों को निर्देश दिए।

कैबिनेट बैठक के अहम फैसले

  •     मुख्यमंत्री अधोसंरचना निर्माण योजना की शुरुआत करने का निर्णय लिया गया। इस योजना के तहत प्रदेश के नगरीय निकायों में विकास कार्य होंगे। इसके लिए वर्ष 2022 23 और 2023-24 के लिए 800 करोड़ रुपये का प्रविधान होगा। 2022-23 के लिए 200 करोड रुपए के बजट का प्रावधान है। बाकी 600 करोड़ की मंजूरी का प्रावधान भी आज की कैबिनेट बैठक में मंजूर।
  •     नर्मदापुरम में लगभग 150 करोड़ रुपये की लागत से फोरलेन मार्ग निर्माण को स्वीकृति। नर्मदा पुरम मुहासा बावड़ी मार्ग पर sh-22 तवा नदी पर फोर लोन स्तरीय पुल के लिए 148.97 करोड की प्रशासकीय स्वीकृति दी गई।
  •     सिवनी जिले के बंडोल सागर चंदौरी कला सड़क निर्माण के लिए 108.97 करोड़ की स्वीकृति दी गई।
  •     सागर के बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में पीजी के लिए 85 सीट बढ़ाने को कैबिनेट की स्वीकृति।
  •     बिना हेलमेट वाहन चलाने पर अर्थदंड ढाई सौ रुपये से बढ़ाकर तीन सौ रुपये करने के प्रस्ताव को मंजूरी ।  सीट बेल्ट न लगाकर वाहन चलाने पर 500 रुपये जुर्माना लगेगा।
  •     आपातकालीन वाहनों को गुजरने के लिए रास्ता देने में असफल रहने पर पहली बार अर्थदंड का प्रविधान भी किया गया है।
  •     सीहोर जिले के बकतरा भारकच्छ शाहगंज मार्ग के लिए 121.83 करोड़ की स्वीकृति। बकतरा सिया गहन सागपुर, बोदरा मार्ग के आंतरिक निर्माण के लिए 108.17 करोड़ की स्वीकृति।
  •     आजीविका और शहरी आजीविका मिशन में महिला स्व सहायता समूह की राशि तीन लाख तक बैंक ऋण पर अतिरिक्त 2% ब्याज की प्रतिपूर्ति सरकार करेगी जो अब तक 3% लगता था ब्याज की छूट देने का बड़ा फैसला हुआ।
  •     मुरैना जिले की एबीसी कैनाल निर्माण के लिए 106.7 करोड़ की मंजूरी
  •     लोक परिसंपत्ति विभाग ने गुना के पुराना बंगला को 3 करोड़ 59 लाख 27 हजार में देने की मंजूरी।
  •     भोपाल के लांबाखेड़ा में 6 करोड़ 94 लाख 11 हजार में आवंटित करने का फैसला।
  •     संविदा शाला शिक्षक की कंडिका 5 में उल्लेखित प्रयोगशाला शिक्षक में प्रतिस्थापित का प्रस्ताव।
  •     जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों को सीहोर में सूर्या फाउंडेशन ने जिस प्रकार से एक परिसर को लिया है उसी तरह से यदि कोई और संस्थाएं इस काम के लिए आगे आती हैं तो उन्हें यह काम सौंपा जाएगा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button