विश्व

तुर्की भूकंपः मलबे में बदल गया 2200 साल पुराना किला, रोमन साम्राज्य से था कनेक्शन

अंकारा

तुर्की और सीरिया में आए भूकंप ने जमकर तबाही मचाई है। इस त्रासदी में मरने वालों का आंकड़ा 8 हजार के पार पहुंच गया है। इसके अलावा हजारों इमारतें मलबे में तब्दील हो गईं। इस भूकंप में दक्षिण-पूर्वी तुर्की में स्थित रोम साम्राज्य का ऐतिहासिक किला भी धराशायी हो गया। बताया जाता है कि यह 2200 साल पुरानी इमारत थी। इसे गाजियानतेप कैसल के नाम से जाना जाता है। गाजियनतेप किला शहर के केंद्र में स्थित है। सोमवार को आए भयानक भूकंप में यह गिर गया। सोशल मीडिया पर किले की तस्वीरें वायरल हो रही हैं। जिसमें लोग भूकंप से पहले और बाद की तस्वीर को शेयर कर रहे हैं।

बताया जाता है कि इस किले का निर्माण शहर में निगरानी के लिए किया गया था। रोमन राजा ने दूसरी और तीसरी शताब्दी में इसका निर्माण करवाया। बिजंताइन शासक जस्तीनियन के समय में इसको और विकसित किया गया। इसके बाद इसका वर्तमान स्वरूप अस्तित्व में आया था। पहले इसका इस्तेमाल रोमन साम्राज्य की सेना की किया करती थी। बाद में इसे बहादुरों का स्मारक बना दिया गया। 

तुर्की में शक्तिशाली भूकंप की वजह से इस किले की दीवारें दरक गईं और फिर गिर गईं। किला दो भागों में टूट गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक किले के चारों तरफ बनाई गई लोहे की रेलिंग भी गिर गई। इसके अलावा किले के तल में भी बड़ी दरारें देखी गईं।

क्या है इस किले का महत्व
गाजियनतेप किले की भूमिका तुर्की की स्वतंत्रता की लड़ाई में भी थी। आटोमन साम्राज्य के पतन के बाद फ्रांस की सेना के खिलाफ यह किला सुरक्षा की निशानी बना हुआ था। गाजियनतेप के ऐनताब के नाम से भी जाना जाता था। इसमें गाजी का मतलब होता है योद्धाय़ 1920 की लड़ाई के बाद इसके नाम के आगे गाजी जोड़ा गया था।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button