मध्य प्रदेश

मौसम में बरते विशेष सावधानी सीजनल फ्लू, रेस्पीरेट्री सिंसेशियल वायरस के बढ़े मरीज

भोपाल

मौसम में हो रहे परिवर्तन ने जहां वायरल फीवर के मरीज बढ़ा दिए हैं। वहीं गला खराब होने के साथ-साथ आंखों से पानी आने की शिकायत भी लोगों को हो रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि इस मौसम में विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। गांधी मेडिकल कॉलेज के के ईएनटी विभाग के डॉ. यशवीर ने बताया कि इन दिनों शहर में सीजनल फ्लू, रेस्पीरेट्री सिंसेशियल वायरस (आरएसवी) और कोविड। सीजनल फ्लू 7 से 10 फीसदी तक ही बढ़ता है, लेकिन इस साल यह 23 फीसदी पहुंच गया है। दिन गर्मी और रात को सर्दी होने के कारण एलर्जी और वायरल इंफेक्शन के मरीज बढ़ गए।

ठंडी चीजों के सेवन से बचें
इससे बचने के लिए दिन में भी गर्म कपड़े पहनें और सर्दी से बचाव रखें। ठंडी चीजों का सेवन न करें। गुनगुना पानी पीएं। जिला अस्पताल के वरिष्ठ विशेषज्ञ डॉ. बलराम उपाध्याय ने बताया कि इन दिनों ओपीडी में दिखाने वाले मरीजों में गला खराब होने के साथ आंखों में पानी आने की शिकायत के आ रहे हैं। जब मरीज को गला खराब, खांसी और जुकाम होता है तो उसके कारण एलर्जी हो जाती है जिससे आंखों से पानी आने लगता है।

गले में दर्द-खांसी
ओपीडी में ऐसे मरीज आ रहे हैं जिन्हें बुखार नहीं है। मगर गले में दर्द व खांसी है। आरएसवी वायरस के चलते मरीजों को ब्रोंकाइटिस हो रहा है। इसमें गले की नसें सिकुड़ जाती है। सही इलाज न मिलने से आगे चलकर यही समस्या अस्थमा में बदल जाती है।
– डॉ. पराग शर्मा, हमीदिया अस्पताल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button