मध्य प्रदेश

BU : चुनाव को लेकर कर्मचारियों में पोस्टर वार, चुनाव प्रक्रिया पर सवाल

भोपाल

बरकतउल्ला विश्वविद्यालय का मार्च में नैक की टीम का इंस्पेक्शन हो सकता है। इसी दौरान बीयू कर्मचारियों की चुनाव की घोषणा कर दी गई है। चुनाव को लेकर कर्मचारियों में पोस्टर वार छिड गया है। वहीं, दूसरी तरफ चुनाव को नैक के इंस्पेक्शन के बाद करने पर कर्मचारी आमादा हो गए हैं। बीयू के करीब 600 कर्मचारियों को सात पदाधिकारियों के साथ दस सदस्यों का चयन करना है।

बीयू के पास नैक का बी एग्रेडेशन मिला हुआ है। कुलपति सुरेश कुमार जैन ए एग्रेडेशन लेने के लिए काफी प्रयासरत हैं। इसे देखते हुए निर्वाचन अधिकारी उल्लास कुलकर्णी ने नैक का इंस्पेक्शन के बाद चुनाव कराने की सूचना व्हाट्सएप के माध्यम से सभी को दी थी। इसी बीच निर्वाचन अधिकारी कुलकर्णी ने चुनाव का कार्यक्रम जारी कर दिया है। इसमें उन्होंने एक नोट लगा दिया है, जिससे कर्मचारियों में पोस्टर वार छिड़ गया है। नोट में कहा गया है कि बीयू में नैक का इंस्पेक्शन होना है। इसलिए कर्मचारी चुनाव के दौरान बीयू की दीवारों पर पोस्टर, बैनर और पम्पप्लेट नहीं लगाएंगे। इससे दीवारें गंदी हो सकती हैं। इसके चलते कर्मचारियों ने चुनाव का विरोध करना शुरू कर दिया है। उनकी मांग की है कि चुनाव पर लगाई गई सभी पाबंदियों को हटाया जाए और ऐसा नहीं हो सकता है, तो नैक का इंस्पेक्शन होने के बाद चुनाव कराए जा सकते हैं।

चुनाव प्रक्रिया पर सवाल
बीयू कर्मचारियों ने निर्वाचन अधिकारी कुलकर्णी को पत्र देते हुए कहा कि सहायक निर्वाचन अधिकारी सीताराम द्विवेदी बीयू की साख समिति में सदस्य हैं। इससे चुनाव प्रक्रिया दूषित हो सकती है। चुनाव निष्पक्ष नहीं किए जा सकते हैं। इसलिए द्विवेदी को सहायक निर्वाचन पद से मुक्त किया जाना चाहिए।

17 को मतदान, रिजल्ट
बीयू कर्मचारियों को कार्यक्रम के तहत छह फरवरी तक मतदाता सूची पर आपत्ति स्वीकृत की जाएगी। सात को अंतिम मतदाता की सूची प्रकाशित, आठ को फार्म वितरण, नौ को सूची जारी, दस को नाम वापसी, 13 को चिंह आवंटन और 17 को मतदान, गणना और रिजल्ट जारी होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button