Uncategorized

SA vs ENG: जोस बटलर के शतक के बाद जोफ्रा आर्चर ने लगाया ‘छक्का’, इंग्लैंड ने आखिरी वनडे में चटाई साउथ अफ्रीका को धूल

 नई दिल्ली 

कप्तान जोस बटलर की शतकीय पारी और जोफ्रा आर्चर की शानदार गेंदबाजी के दम पर इंग्लैंड ने आखिरी वनडे में साउथ अफ्रीका को 59 रनों से मात देकर अपनी लाज बचाई। सीरीज के पहले दो मुकाबले हारकर 2-0 से पिछड़ रही इंग्लिश की नजरें आखिरी मैच जीतकर खुद को वाइट वॉश से बचाने पर थी। किम्बरली डायमंड ओवल में खेले गए इस मैच में पहले बैटिंग करते हुए इंग्लैंड ने निर्धारित 50 ओवर में बोर्ड पर 7 विकेट के नुकसान पर 346 रन लगाए थे। बटलर के अलावा इस दौरान डेविड मलान ने भी शतक जड़ा। इस स्कोर का पीछा करते हुए मेजबान टीम 43.1 ओवर में 287 रनों पर सिमट गई। जोफ्रा आर्चर ने इस दौरान सर्वाधिक 6 विकेट चटकाए। 

साउथ अफ्रीका ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। कप्तान टेंबा बावुमा का यह फैसला शुरुआत में तो टीम के हित में रहा क्योंकि इंग्लैंड ने मात्र 14 रन पर अपने तीन विकेट खो दिए थे। इस दौरान जेसन रॉय 1, बेन डकेट शून्य और हैरी ब्रुक्स 6 रन बनाकर पवेलियन लौटे। मगर इसके बाद सलामी बल्लेबाज डेविड मलान का साथ देने आए जोस बटलर ने चौथे विकेट के लिए 232 रनों की शानदार साझेदारी कर ना सिर्फ टीम को मुश्किल से निकाला बल्कि बड़े स्कोर की राह दिखाई।

बटलर ने 127 गेंदों पर 6 चौकों और 7 छक्कों की मदद से 131 रनों की पारी खेली, वहीं डेविड मलान ने 114 गेंदों पर 7 चौकों और 6 छक्कों की मदद से 118 रन बनाए। इनके अलावा मोइन अली ने 23 गेंदों पर 2 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 41 रनों की पारी खेल टीम को इस विशाल स्कोर तक पहुंचाने में मदद की। मेजबानों के लिए लुंगी एनगिडी ने सर्वाधिक 4 विकेट लिए।

347 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी साउथ अफ्रीका की टीम की शुरुआत तो अच्छी रही, मगर कोई भी खिलाड़ी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहा। हेनरिक क्लासेन (80) और रीज़ा हेंड्रिक्स (52) ने इस दौरान अर्धशतक जड़ा मगर वह टीम को जीत नहीं दिला पाए। सीरीज के पहले मुकाबले के आर्चर की साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों ने खूब धुनाई की थी जिसका बदला इंग्लिश गेंदबाज ने तीसरे और आखिरी वनडे में 6 विकेट लेकर लिया। आर्चर ने 9.1 ओवर में इस दौरान 40 रन खर्च किए।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button