मध्य प्रदेश

अनूपपुर हादसा :बंद कोयला खदान में 7 लोगों की मौत, एसईसीएल के खिलाफ FIR,लागू की धारा 144

अनूपपुर
अनूपपुर जिले में एक खान हादसे में सात लोगों की मौत हो गई है. घटना 26 जनवरी की है. धनपुरी क्षेत्र के गरीब परिवारों ये लोग पास ही बंद पड़े एक कोयला खदान में कबाड़ और कोयला निकालने के लिए घुसे थे. साउथ इस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड(SECL) की इस बंद खदान में गैस भरी थी. घुसने के बाद उनका दम घुटने लगा और वे अंदर ही बेहोश हो गए. मामला जब तक पुलिस के पास पहुंचा तब तक देर हो चुकी थी. अब तक 7 शव निकाले जा चुके हैं. जिले के एसपी कुमार प्रतीक के अनुसार, खदान को सही ढंग से बंद नहीं किया गया था. इस तरह कर्तव्य में लापरवाही बरतने को लेकर एसईसीएल प्रबंधन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. जिले में 7 लोगों की मौत के बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की है। पुलिस ने कबाड़ियों के अवैध ठिकानों पर बुलडोजर चलाया है। इसके साथ ही कलेक्टर ने एसईसीएल (SECL) की बंद पड़ी खदानों में धारा 144 लागू करते हुए इसे प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित किया है।

चार-चार लोगों का दो समूह घुसा था खदान में

मिली जानकारी के अनुसार, खदान के अंदर चार-चार की संख्या में दो समूह खदान के अंदर अलग-अलग जगहों से घुसा था. इस वजह से दोनों समूह को एक दूसरे के खदान के अंदर होने की जानकारी नहीं थी. खदान के बाहर बैठे एक ग्रामीण को जब ये लोग खदान से बहुत देर बाद भी नहीं निकले तो उसने इस घटना की जानकारी गांव वालों को दी और फिर मामला पुलिस थाने तक पहुंचा. पुलिस ने एसईसीएल प्रबंधन को इस घटना की जानकारी दी तो वहां से खदान के अंदर घुसने वाले विशेषज्ञ भेजे गए. खदान में तलाशी अभियान शुरू हुआ. पूरी रात तलाशी के बाद 27 जनवरी को तड़के 4 लोगों के शव बरामद हुए.

तीन और लोगों का शव मिला

बाद में तीन और लोगों के लापता होने का पता चला. उनके परिजनों ने स्थानीय थाने में उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई तो खदान के अंदर फिर तलाशी शुरू हुई. तीन और शव बरामद किए गए. इस पूरे मामले जीवित बचे एकमात्र व्यक्ति से जब पुलिस ने पूछताछ की तो उसने स्वीकार किया कि वह तीन अन्य लोगों के साथ बंद खदान के अंदर कबाड़ और कोयला निकालने घुसा था.

बंद पड़ी खदानों में धारा 144 लागू

शहडोल कलेक्टर वंदना वैध ने एसईसीएल की बंद पड़ी खदानों में धारा 144 लागू किया है। एसपी के प्रतिवेदन के बाद कलेक्टर ने आदेश जारी कर दिया है। साथ ही बंद खदानों के आसपास नागरिकों के जाने पर रोक लगाई है। प्रतिबंधात्मक आदेश जारी करते हुए अलर्ट जारी किया है। विओ03 एसपी कुमार प्रतीक के निर्देशन पर SECL प्रबंधन सहित अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।, फरार आरोपी कबाड़ी पप्पू टोपी 10000 का इनाम भी एसपी ने घोषित किया है, वहीं कबाड़ी गुड्डू खान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने की कार्रवाई

पुलिस ने अनुसार इस हादसे के बाद स्थानीय पुलिस चौकी प्रभारी को अवैध रूप से चल रहे कबाड़ के व्यवसाय पर लगाम लगाने में नाकाम रहने के आरोप में वहां से हटा दिया गया है और वहां अवैध रूप से कबाड़ का धंधा कर रहे दो कबाड़ियों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button