Uncategorized

पाकिस्तान की हुई फजीहत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड के बाद न्यूजीलैंड ने भी घर में किया शर्मसार

 नई दिल्ली 

पाकिस्तान में लंबे समय बाद क्रिकेट की तो वापसी हो रही है, मगर जो देश वहां खेलने जा रहा है वह मेजबान टीम को धूल चटाकर ही वापस लौट रहा है। जी हां, पिछले 11 महीनों में बाबर आजम की टीम ने ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की मेजबानी की है और हर टीम ने पाकिस्तान को उन्हीं के घर पर हार का स्वाद चखाकर लौटी है। पाकिस्तान को लगातार मिल रही इस हार के बाद तो अब बाबर आजम की कप्तानी पर भी खतरा मंडराने लगा है। खबर है कि शान मसूद को उनकी जगह पाकिस्तान की वनडे और टेस्ट टीम का कप्तान बनाया जा सकता है।
 
ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट और टी20 में चटाई धूल

1998/99 के बाद पाकिस्तान दौरे पर गई ऑस्ट्रेलियाई टीम ने टेस्ट में 1-0 से धाक जमाई तो एकमात्र टी20 मुकाबला भी उन्होंने अपने नाम किया। इस टूर पर कंगारुओं ने तीन मैच की वनडे सीरीज भी खेली थी जिसे मेजबानों ने 2-1 से अपने नाम किया था। इस दौरे पर आकर्षण का केंद्र टेस्ट सीरजी रही थी। पाकिस्तान कभी घर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज नहीं जीता था। पाटा विकेट पर सीरीज के पहले दो टेस्ट ड्रॉ रहने के बाद पैट कमिंस की टीम ने आखिरी मुकाबला जीतकर टीम की विनिंग स्ट्रीक को बरकरार रखा।
 

इंग्लैंड ने तो खूब धोया

बेन स्टोक्स और ब्रैंडन मैक्कुलम की जोड़ी का जलवा पाकिस्तान में खूब दिखा। पाटा विकेट पर भी इंग्लैंड ने अपने कुछ बड़े फैसलों के चलते तीन टेस्ट मैच की सीरीज में मेजबानों का सूपड़ा साफ किया। यह हार पाकिस्तान के लिए किसी बुरी सपने से कम नहीं थी। इससे पहले अक्टूबर में इंग्लैंड ने 7 मैच की टी20 सीरीज में बाबर आजम की टीम को 4-3 से भी धोया था।
 
न्यूजीलैंड ने भी मारी बाजी

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड से मिली हार के बाद लगने लगा था कि पाकिस्तान सीख गया होगा कि घरेलू मैदानों पर किस रणनीति के साथ खेलना है। ऐसे में उनके फैंस न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जीत की उम्मीद लगाए बैठे थे। यहां पाकिस्तान को हार तो नहीं मिली, मगर कीवी टीम दोनों टेस्ट ड्रॉ कराने में जरूर कामयाब रही। वहीं वनडे सीरीज में इतिहास रचते हुए न्यूजीलैंड ने 2-1 से मेजबानों को हराया। न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान में यह पहली सीरीज जीती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button