मध्य प्रदेश

निवास नगर परिषद में भ्रष्टाचार की खुली पोल,चलाई फर्जी बिलो की फाइल

अनेको सामग्री निकाय से गायब ,जांच भी हुई परन्तु मामला सिमट गई कागज़ में

मंडला
 भ्रष्टाचार की खुली पोल नगर परिषद निवास में दिनाक 7 अगस्त 2019 से  15 फरवरी 2021 तक जेम पोर्टल एवं कोटेशन के माध्यम से अनेको सामग्री क्रय की गयी थी। जिनके  टी.डी.एस. एवं जी.एस.टी. जमा न होने पर फॉर्च्यून इंटरनेशनल भोपाल ने नगर परिषद को पत्राचार किया है परन्तु परिषद के द्वारा उनका टी.डी.एस.एवं जी.एस.टी. कर कटौती की राशि जमा नही की गई है, जिसके कारण व्यापारी परेशान है ।

अनेको सामग्री गायब-—जानकारी के अनुसार इस समय मुख्य नगर पालिका अधिकारी मीना कोरी रही जिनके द्वारा गवर्मेट ई-मार्केट प्लेस (GEM) एवं कोटेशन के माध्यम से सामग्री प्रदान की गई थी जिनमे से अनेको सामग्री निकाय में नही आई केवल बिल बुलवा कर भुगतान कर दिया उक्त सभी फाइल दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी मोहन मरूआ के द्वारा चलाई गई थी जिसकी शिकायत अध्यक्ष चैन सिंह बरकड़े ने परियोजना अधिकारी नगरीय प्रसासन मण्डला में भी की थी। सूत्रों के आधार पर यह दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी अधिकारियों के खास है और खास होने के कारण अधिकारियों के साथ मिलकर कमीशन का प्रसाद भी समय समय मे ले रहे है ।
कटौती जमा न होने में हुआ खुलासा–—–यह जानकारी मीडिया को न लगती मगर जब व्यपारी की कटौती जमा न हुई, तो उनने इसकी जानकारी विभाग में दी जिसके बाद यह जानकारी अन्य माध्यमों से मीडिया तक पहुची कि विभाग  ने कटौती राशि जमा नही की है जो जांच का विषय बन गया है ।वही अनेको समान आये ही नही और बिल लगाकर

 राशि आहरण कर लिया गया अगर सभी सामग्री का आज भौतिक सत्यापन हो जाये तो सब खुलकर सामने आ जायेगा ।

व्यपारी ने भेजा ये पत्र-—व्यपारी के द्वारा दिनाक 28 दिसबंर 2022 को यह पत्र भेजा है कि हमारी

 संस्था के  द्वारा निवास निकाय में गवर्मेट ई-मार्केट प्लेस (GEM) एवं कोटेशन के माध्यम से सामग्री प्रदान की गई जिसमें विभाग द्वारा टी.डी.एस. (आयकर कटौती) एवं जी.एस.टी. कर कटौती जमा नही की गई। और हमारे फॉर्म 26 AS पर नही दिख रही है और न ही  कटौती और न ही जी.एस.टी. पोर्टल पर जी.एस.टी. नहीं दिख रहा है। जिस का जल्द निराकरण करे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button