व्यापार

सर्दी का सितम दिल्ली के व्यापारियों हुआ 200 करोड़ का घाटा!

  नई दिल्ली

भीषण सर्दी के दौर में दिल्ली के बाजार (Delhi Markets) भी ठंडे हो गए हैं. सभी मार्केट्स में ग्राहकों (Coustmers) की संख्या में जबरदस्त कमी देखने को मिल रही है. ठंड के कारण दुकानदार भी देरी से दुकान खोल रहे हैं और जल्दी बंद भी कर रहे हैं. वहीं कोहरे के चलते आवागमन भी चरमरा गया है. ट्रेन, फ्लाइट्स और बसों की रफ्तार धीमी हुई है. चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (CTI) का आकलन है कि बीते 10 दिनों में ही दिल्ली के बाजारों में 40 फीसदी तक बिजनेस घट गया है.

व्यापारियों को हो रहा तगड़ा नुकसान
सीटीआई चेयरमैन बृजेश गोयल और अध्यक्ष सुभाष खंडेलवाल का दावा है कि इन दिनों करीब 200 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. कश्मीरी गेट, चांदनी चौक (Chandni Chowk), सदर बाजार (Sadar Bazar), नया बाजार, चावड़ी बाजार, कनॉट प्लेस (Connaught Place), लक्ष्मी नगर (Lakshmi Nagar), खान मार्केट, सरोजिनी नगर (Sarojani Nagar), तिलक नगर, जनकपुरी, लाजपतनगर, कमला नगर, नेहरू प्लेस (Nehru Place) समेत सभी प्रमुख बाजारों में औसत से कम फुटफॉल दर्ज किया गया.

दिल्ली में रोजाना लगभग 2 लाख लोग आसपास के राज्यों से खरीदारी के लिए पहुंचते हैं, जिनकी आवक मंद पड़ी है. इसमें कोहरे का भी अहम रोल है, क्योंकि हरियाणा (Haryana), पंजाब (Punjab), उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh), राजस्थान (Rajasthan) जैसे राज्यों से रोजाना होलसेल खरीदार ट्रेनों और बसों से आते हैं. ऐसे में अधिकतर खरीदार मौसम ठीक होने का इंतजार कर रहे हैं.

टूरिज्म-हॉस्पिटैलिटी सेक्टर पर असर
बृजेश गोयल ने बताया कि टूरिज्म और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर (Tourism And Hospitality Sector) भी सर्दी और कोहरे की वजह से खासा प्रभावित हुआ है. होटल, टूर-एंड ट्रेवल की टैक्सी बुकिंग (Hotel And Taxi Booking) कैंसल हो रही हैं. कहीं पहले से तय प्रोग्राम आगे बढ़ाए जा रहे हैं, तो ठंड की वजह से सार्वजनिक कार्यक्रम भी रद्द हो रहे हैं.

पहाड़गंज (Pahadganj), करोल बाग (Karol Bagh), राजेंद्र पैलेस (Rajendra Place) और महिपालपुर (Mahipalpur) में सैकड़ों की संख्या में बजट होटल और महंगे होटल हैं, जिनमें बिजनेस टूर पर आए ट्रेडर्स रुकते हैं. लेकिन, हाल के समय में यहां बुकिंग कैंसल होने की रफ्तार में जोरदार बढ़ोतरी देखी जा रही है. होटल बुकिंग (Hotel Booking) के साथ ही रेस्टोरेंट बिजनेस भी कमजोर पड़ा है. आम तौर पर दिल्ली में रात के वक्त लोग खाने-पीने निकलते हैं. लेकिन, फिलहाल शाम होते ही हाड़ कंपाने वाली ठंड हो जाती है और ठिठुरनभरे मौसम में घूमने-फिरने वाले भी अपने घरों में कैद रहना पसंद कर रहे हैं.

क्लाइंट तक माल पहुंचने में हो रही देरी
CTI के महासचिव, रमेश आहूजा का कहना है कि ठंड का प्रकोप ट्रांसपोर्ट सेक्टर (Transport Sector) पर भी दिख रहा है. समय पर क्लाइंट के पास माल नहीं पहुंच रहा है. कोहरे के चलते ट्रकों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया है. ऐसे में क्लाइंट के पास उसका सामान पहुंचने में देरी हो रही है. जाहिर है, ऑर्डर के बाद किसी को वक्त पर सामान नहीं मिले, तो कई बार उसकी जरूरत खत्म हो जाती है. इसका सीधा खामियाजा ट्रेडर्स को झेलना पड़ता है. जनवरी के सीजन में कड़ाके की सर्दी पड़ती है, तो ऐसा माहौल हो ही जाता है. इस बार भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिल रहा है.

मकर संक्रांति से लगी है उम्मीद  
सीटीआई महासचिव, विष्णु भार्गव का कहना है कि 14-15 जनवरी को मकर संक्रांति (Makar Sankranti 2023) है. मकर संक्रांति के दिन सूर्य धनु राशि से निकल कर मकर राशि में प्रवेश करते हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस दिन सूर्य देव उत्तर दिशा की ओर गमन करते हैं, जिसे उत्तरायण कहा जाता है. इसके बाद दिन में गर्मी बढ़ने लगती है. मौसम गर्म होगा, तो ठंड से राहत मिलने की उम्मीद है.

उन्होंने कहा कि धूप निकलेगी, तो व्यापार उठेगा. इसके अलावा 19 जनवरी तक ग्रेटर नोएडा में चलने वाले ऑटो एक्सपो (Auto Expo) और प्रगति मैदान में 12 से 15 जनवरी तक ऑटो पार्ट्स एक्सपो (Auto Part's Expo) से भी व्यापारियों को कारोबार बढ़ने की उम्मीद है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button