गजेंद्र सिंह शेखावत ने अलवर में मूक-बधिर से हैवानियत पर गहलोत सरकार पर उठाए सवाल

जोधपुर
राजस्थान के अलवर में मूक-बधिर नाबालिग से हैवानियत और कांग्रेस की चुप्पी पर केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने तीखा प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस का राज है और लड़कियों, महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। कांग्रेस का उत्तर प्रदेश में "लड़की हूं लड़ सकती हूं" का झूठा नारा इनके लिए चुनावी क्षेत्र का ड्रामा है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सुनिए गहलोत जी, हम अलवर की बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए हर स्तर पर लड़ने को तैयार हैं। हम वोट के लिए संवेदनाओं से नहीं खेलते। हम वोट के लिए सिर्फ नारे नहीं बनाते। शेखावत ने कहा कि राज्यसभा सांसद डा. किरोड़ी लाल मीणा व अन्य भाजपा नेताओं को हिरासत में लेना बताता है कि आपकी सरकार हमेशा की तरह अपराधियों के साथ है।केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने बिटिया के परिजनों से फोन पर बात की है। उन्हें हर तरह की सहायता का वचन दिया है। शेखावत ने कहा कि राजस्थान में कानून-व्यवस्था की इनके लिए चिंताजनक है। हम दुष्कर्मियों और सरकारी दमन से मिलकर लड़ेंगे।

अलवर में नाबालिग से हैवानियत पर शेखावत बोले, क्या हो रहा है मेरे राजस्थान को?
केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने अलवर में नाबालिग मूक-बधिर बालिका से हैवानियत पर कहा कि क्या हो रहा है मेरे राजस्थान को? उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि गहलोत जी, मुख्यमंत्री होने के नाते आप कुछ तो कीजिए। घटना पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए शेखावत ने कहा कि हमारी बेटियों ने इतिहास से अब तक हमारा सर ही ऊंचा किया है। और उनके साथ क्या हो रहा है? ये असुर कहां से आ गए हमारी जमीन पर? केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गहलोत जी राजस्थान का दुष्कर्म के आंकड़ों में पहला स्थान है और उस पर भी अलवर में एक बिटिया का जीवन लीलने की कोशिश होती है। स्थिति बर्दाश्त के बाहर हो रही है।