ओमिक्रॉन को मात देने के बाद फिर से कोरोना की चपेट में डॉक्टर

बेंगलुरु
कर्नाटक के बेंगलुरु में ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित डॉक्टर की कोरोना रिपोर्ट दोबारा पॉजिटिव आई है। यह डॉक्टर भारत में ओमिक्रॉन के मिले पहले दो लोगों में से एक है। रिपोर्ट के मुताबिक डॉक्टर ने ओमिक्रॉन वैरिएंट को शिकस्त देते हुए ठीक भी हो चुके थे, लेकिन अब उनकी रिपोर्ट फिर से कोविड-19 पॉजिटिव आई है। हालांकि, अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि दोबारा भी ओमिक्रॉन वैरिएंट है या फिर कोई और है। 46 साल के इस डॉक्टर का अंतरराष्ट्रीय यात्रा कोई इतिहास नहीं है। भारत में पहली बार जब ओमिक्रॉन के दो मामलों की पुष्टि हुई तब इनके अलावा एक दक्षिण अफ्रीकी नागरिक था। हालांकि, बाद में वह दुबई निकल गया। पुलिस ने दक्षिण अफ्रीकी नागरिक के खिलाफ मामला दर्ज किया है जो अधिकारियों को सूचना दिए बिना देश से बाहर चला गया है।

बृहत बेंगलुरु महानगरपालिका (BBMP) के एक अधिकारी ने पीटीआई से कहा, 'यह सच है कि ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित मिला डॉक्टर फिर से कोरोना वायरस से संक्रमित हो गया है।' अधिकारी ने बताया कि संबंधित डॉक्टर को आइसोलेशन में रखा गया है और उसे हल्के लक्षण हैं। रिपोर्ट में बताया था कि ओमिक्रॉन से संक्रमित होने की पुष्टि से एक दिन पहले डॉक्टर ने बेंगलुरु में एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा लिया था। यह सम्मेलन 18 से 20 नवंबर को हुआ था। इस सम्मेलन में डॉक्टर के शामिल होने बाद बीबीएमपी अधिकारी उन लोगों का पता लगाने जुटे हुए जो इस डॉक्टर के संपर्क में आए थे। इनमें से कई लोगों को ट्रेस भी कर लिया गया है।