दिवाली पर 2 घंटे ही कर सकेंगे आतिशबाजी, छठ से न्यू ईयर तक के लिए टाइम फिक्स

 कोलकाता 
पश्चिम बंगाल में दिवाली और काली पूजा के अवसर पर इस बार लोग केवल 2 घंटे ही आतिशबाजी कर सकते हैं। राज्य सरकार की ओर से जारी आदेश में यह भी कहा गया है कि सिर्फ हरित पटाखों (कम प्रदूषण फैलाने वाले) के इस्तेमाल की इजाजत होगी। 

पश्चिम बंगाल पलूशन कंट्रोल बोर्ड (WBPCB) ने एक नोटिफिकेशन में कहा है कि दिवाली-काली पूजा पर रात 8 बजे से 10 बजे तक ही ग्रीन पटाखों के इस्तेमाल की इजाजत है। छठ पूजा पर भी 2 घंटे के लिए सुबह 6 से 8 बजे तक आतिशाबाजी की इजाजत दी गई है तो क्रिसमस और नए साल पर 35 मिनट के लिए यह छूट होगी।

26 अक्टूबर को जारी नोटिफिकेशन में यह भी कहा गया है कि कोलकाता और दूसरे जिलों में अक्टूबर के तीसरे सप्ताह में वायु गुणवत्ता मध्यम से संतोषजनक है। WBPCB के चेयरमैन कल्याण रूद्र ने बुधवार को कहा, ''अथॉरिटीज को आदेश को लागू कराने को कहा गया है और जो इनका उल्लंघन करें उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। पुलिस की सहयोग से हमारी टीमें सक्रियता से स्थिति की निगारानी करेंगी।''
 
पर्यावरणविद सुभाष दत्ता ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि इस बात की संभावना है कि लोग आदेश का उल्लंघन करके निर्धारित समय के बाद भी आतिशबाजी कर सकते हैं। उन्होंने यह भी आशंका जताई कि प्रतिबंधित पटाखे भी बाजार में आ सकते हैं।