केंद्र ने भारत में कोरोना से 7-8 गुना अधिक मौत होने के दावे वाली रिपोर्ट को क‍िया खारिज

नई दिल्ली

केंद्र सरकार ने मंगलवार को उस स्‍टडी पर आधारित मीडिया में आई खबरों को पूरी तरह भ्रामक करार देकर खारिज किया, जिसमें यह दावा किया गया है कि भारत में महामारी की दो लहरों के दौरान कम से कम 27 लाख से 33 लाख कोविड-19 मरीजों की मौत हुई। यह आरोप एक वर्ष में कम से कम 27 प्रतिशत अधिक मृत्यु दर की ओर इशारा करने वाले तीन अलग-अलग डेटाबेस का हवाला देते हुए लगाया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इन खबरों में यह भी नतीजा निकाला गया कि भारत की कोविड से होने वाली मृत्यु दर आधिकारिक रूप से दर्ज की गई मौतों से लगभग सात-आठ गुना अधिक हो सकती हैं और यह दावा किया गया कि इनमें से अधिकांश अतिरिक्त मौत संभवतः कोविड-19 के कारण हुई हैं। मंत्रालय ने कहा क‍ि गलत सूचनाओं वाली ऐसी खबरें पूरी तरह भ्रामक हैं।

 

केंद्र ने द‍िया ये तर्क

बयान में कहा गया कि यह साफ किया जाता है कि केंद्र सरकार कोविड से जुड़े आंकड़ों के प्रबंधन के प्रति अपने नजर‍िये में पारदर्शी रही है और कोविड-19 से संबंधित सभी मौतों को दर्ज करने वाली एक मजबूत प्रणाली पहले से मौजूद है। सभी राज्यों और केन्द्र-शासित प्रदेशों को नियमित आधार पर इन आंकड़ों को अद्यतन करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।