सोमवार से दिल्ली में 100% क्षमता से चलेगी मेट्रो

   नई दिल्ली
    कोरोना की वजह से लंबे समय से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चल रही मेट्रो अब फिर पुराने अंदाज में नजर आएगी. फैसला लिया गया है कि 26 जुलाई से 100 प्रतिशत क्षमता के साथ मेट्रो को चलाया जाएगा. कहा गया है कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मेट्रो का फिर पुराने अंदाज में संचालन किया जाएगा.

दिल्ली में 100% क्षमता से चलेगी मेट्रो

अनलॉक प्रक्रिया के तहत 26 जुलाई सुबह 5 बजे से दिल्ली में 100% क्षमता के साथ मेट्रो को चलाया जाएगा. इसके अलावा अब सिनेमाघर, थियेटर, मल्टीप्लेक्स भी 50% क्षमता के साथ खुलेंगे. अब सरकार ने शादी समारोह को लेकर भी बड़ा फैसला लिया है. आदेश में बताया गया है कि अब शादियों में 50 की जगह 100 मेहमान शामिल हो पाएंगे, वहीं अंतिम संस्कार में भी 100 लोगों को आने की मंजूरी रहेगी. इसके अलावा कुछ शर्तों के साथ स्पा को खोलने की भी इजाजत दे दी गई है.

डीटीसी और क्लस्टर बसों पर ऐलान

इस बार अनलॉक के तहत मेट्रो के साथ डीटीसी बसों को लेकर भी बड़ा ऐलान किया गया है. बताया गया है कि डीटीसी और क्लस्टर बसों में 100% क्षमता के साथ यात्रा करने की इजाजत रहेगी. ऐसे में तमाम यात्रियों की बड़ी सहूलियत होने जा रही है. अब जैसे-जैसे कोरोना के मामले कम होते जा रहे हैं, राजधानी को भी खोला जा रहा है. इससे पहले भी सरकार ने जिम से लेकर बाजार खोलने की अनुमति दे रखी है, अब उन्हीं रियायतों को बढ़ाते हुए दिल्ली मेट्रो को भी 100% क्षमता के चलाने की अनुमति दे दी गई है.

पाबंदियां क्या हैं?

अब इन रियायतों के बीच दिल्ली में स्कूल खोलने पर अभी भी कोई फैसला नहीं लिया गया है. आदेश के अनुसार अभी भी दिल्ली में स्कूल-कॉलेज बंद रहने जा रहे हैं. ऑनलाइन क्लास के जरिए छात्रों को पढ़ाया जाएगा. इसके अलावा अभी किसी भी तरह की सोशल गैदरिंग पर भी रोक रहेगी और सभी को सख्ती से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स और स्टेडियम को खोलने का फैसला पहले ही लिया जा चुका है, लेकिन अभी दर्शक वहां नहीं जा सकते हैं. इसी तरह रेस्टोरेंट में भी अब लोग खाने का लुत्फ उठा सकते हैं, लेकिन क्षमता सिर्फ 50 प्रतिशत रखी गई है.

राजधानी में कोरोना स्थिति की बात करें तो पिछले कई दिनों से लगातार 100 से कम नए मामले सामने आ रहे हैं. वहीं ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है. यही वजह है कि अब दिल्ली को फिर खोला जा रहा है और जिंदगी पटरी पर लौट रही है.