बिहार में सियासी हलचल तेज,मांझी से मिलने पहुंचे तेज प्रताप

 पटना

बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी से उनके आवास पर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव मिलने पहुंचे हैं. दोनों नेताओं के बीच बंद कमरे में बातचीत हो रही है. वहीं मांझी और तेज प्रताप के बीच मुलाकात के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लालू यादव के बड़े बेटे और हसनपुर सीट से विधायक तेज प्रताप यादव अब से कुछ देर पहले हम प्रमुख और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी से मिलने उनके सरकारी आवास पर पहुंचे हैं, जहां दोनों नेताओं के बीच बंद कमरे में बातचीत हो रही है. वहीं अब दोनों दलों की ओर से इसपर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है.

तेज प्रताप ने क्या कहा- वहीं मुलाकात से पहले तेज प्रताप यादव ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि जिनका-जिनका मन डोल रहा है, वो हमारे साथ आ जाएं. राजद विधायक ने आगे कहा कि मांझी जी अगर पार्टी के साथ आना चाहते हैं तो, उनका स्वागत है.

मांझी ने दी लालू यादव को बधाई- इससे पहले जीतन राम मांझी ने ट्वीट कर लालू यादव को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी. मांझी ने लिखा, ' बिहार के पुर्व मुख्यमंत्री आदरणीय लालू यादव को उनके जन्मदिन की अनंत शुभकामनाएँ. आप दीर्घायु हों, सदैव मुस्कुराते रहें ईश्वर से यही कामना है.'

मांझी ने इसके बाद एक और ट्वीट किया और जातिगत जनगणना की मांग की. मांझी ने कहा, 'वर्तमान स्थिति में देश की जनगणना आवश्यक है, परन्तु कोरोना के कारण जनगणना कार्य को रोककर रखा गया है. देश में जब चुनाव हो सकतें हैं तो जनगणना से परहेज़ क्यों? भारत सरकार से अनुरोध है कि 10 वर्षीय जनगणना के साथ-साथ जाति आधारित जनगणना अविलंब शुरू किया जाए.'