महाराष्ट्र में तेजी से क्यों फैल रहा है कोरोना वायरस?

मुंबई
महाराष्ट्र में इस महीने की शुरुआत से कोरोना वायरस के केसों में तीव्र वृद्धि देखने को मिली है। राज्य के अमरावती जिले का हॉटस्पॉट बन गया है। लेकिन कोरोना के केसों में ये वृद्धि क्यों हो रही है? महाराष्ट्र के एक डॉक्टर ने इसके पीछे के कारणों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के विधर्भ क्षेत्र के अमरावती और अचलपुर शहर में कोरोना वायरस के केसों में वृद्धि के लिए तीन कारण जिम्मेदार हैं। महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग के तकनीकी सलाहकार डॉ. सुभाष सालुंके, ने बताया कि उन्होंने हाल ही में अमरावती और अचलपुर शहर का दौरा किया था। 

वहां कोरोना के केसों में तेजी से वृद्धि के लिए तीन प्रमुख कारण जिम्मेदार है… पहला कारक वायरस, इसकी संरचना, उत्परिवर्तन और इसके संचरण की क्षमता है; दूसरा कारक वह व्यक्ति है जो संक्रमित हो जाता है और इसे दूसरों तक पहुंचाता है और तीसरा पर्यावरण और मौसम है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस म्यूटेशन कई बार हुआ है और यह सामान्य वायरस की तुलना में तेज गति से संक्रमित कर रहा है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यह वायरस धीरे धीरे पुणे और मुंबई जैसे अन्य जिलों में भी फैल रहा है।

 डॉ. सालुंके ने बताया कि अगर इस वायरस को रोकने के लिए जल्द ही इंतजाम नहीं किये गए तो वह दिन दूर नहीं जब यह देश के अन्य राज्यों में भी फैल जाएगा। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अमरावती और यवतमाल जिलों में जो वायरस मिला है वह महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के केसों में वृद्धि के लिए जिम्मेदार नहीं है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में हो रहे कोरोना वायरस के टीकाकरण ने निश्चित तौर पर इसे कंट्रोल करने का काम किया है। डॉ सालुंके ने कहा कि उन्होंने मंगलवार को कोरोना वायरस की दूसरी वैक्सीन लगवा ली है। उनके अलावा संभागीय आयुक्त सौरव राव और पुलिस आयुक्त (पुणे सिटी) अमिताभ गुप्ता को भी कोरोना वायरस की वैक्सीन दी गई है।