समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए पंजीयन शुरु, मार्च में होगी खरीदी

भोपाल
प्रदेश में किसानों से समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लए पंजीयन शुरू हो गया है। प्रदेशभर में चार हजार से अधिक खरीदी केन्द्रों पर मार्च-अप्रैल से समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी की जाएगी। इस बार राज्य सरकार पहली बार किसानों से यह भी जानकारी मांग रही है कि फसल काटकर वे खलिहान में रखेंगे या गोदामों में रखेंगे। राज्य सरकार इस बार प्रदेश भर के किसानों से 1975 रुपए प्रति क्विंटल की दर से गेहूं की खरीदी करेगी।  वर्ष 2021-22के लिए होने वाली समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए किसानों को ई-उपार्जन पोर्टल पर आॅनलाईन पंजीयन कराना होगा।

पंजीयन आज से शुरू हो गया है और 20 फरवरी तक चलेगा। पंजीयन के दौरान इस बार किसानों को अपना बैंक खाता नंबर,आधार नंबर, मोबाइल नंबर, भूमि का विवरण, बोई गई फसल और अनुमानित उत्पादन का ब्यौरा भी देना होगा। किस दिन वे अपना अनाज बेचना चाहते है उसके लिए तीन तिथियां भी उन्हें बताना होगा। किस दिन वे कितना गेहूं समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए खरीदी केन्द्र पर लेकर आएंगे यह भी उन्हें बताना होगा।  इस बार एक नई जानकारी किसानों से यह भी मांगी जा रही है कि वे अपना अनाज खलिहान में रखेंगे या गोदाम में । इस जानकारी से सरकार को यह अनुमान होगा कि अनाज के सुरक्षित भंडारण की व्यवस्था किसानों के पास है या नहीं।

पिछले वर्ष 129 लाख मीट्रिक टन गेहूं की समर्थन मूल्य पर खरीदी की गई थी। इस बार भी 130 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी होने का अनुमान है। इसके लिए खरीदी केन्द्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, सेनेटाईजर, हाथ धोने के लिए साबुन सहित कई प्रकार की व्यवस्थाएं की जाएंगी।