रायपुर डिस्ट्रिक्ट स्काउट गाइड फैलोशिप ने 3 बालिकाओं को गोद लिया

रायपुर
राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर रायपुर डिस्ट्रिक्ट स्काउट गाइड फैलोशिप ने 3 बालिकाओं को गोद लिया गोद ली कन्याओं के द्वारा पारिवारिक व आथिग कारणों के चलते इन कन्याओं को अपनी पढ़ाई बीच में छोडनी पड़ी थी।

रायपुर डिस्ट्रिक्ट स्काउट गाइड फैलोशिप के सदस्यों ने शपथ ली हुई है कि जो कन्याएं पढऩा चाहती हैँ लेकिन किसी कारणवश वे अपनी पढ़ाई आगे जारी नहीं रख पाती तो ऐसी कन्यओं को गोद लेकर उनकी पूरी पढ़ाई का दायित्व सदस्य गण उठाते हैं।

रायपुर डिस्ट्रिक्ट स्काउट गाइड फैलोशिप के तीन सदस्यों में से एक पूर्व राज्य सचिव छत्तीसगढ़ स्काउट गाइड फैलोशिप एवं पूर्व राज्य सचिव भारत स्काउट एंड गाइड छत्तीसगढ़ श्रीमती ममता राय ने 2008 में पारिवारिक कारणों के चलते आठवी तक पढ़ाई पूरी कर चुकी अल्पना सेंन्द्रे को गोद लेते हुए उसकी आगे की पढ़ाई का दायित्व वहन करने का निर्णय लिया। इसी प्रकार से डिस्ट्रिक्ट स्काउट गाइड फैलोशिप के सदस्य डॉक्टर बी दत्ता तथा श्रीमती गंगा यादवने संयुक्त रूप से आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कक्षा चौथी के बाद अपनी पढ़ाई आगे पूरी नहीं कर पाने वाली हर्षिता जुल्फेकर को गोद लेते उसकी आगे की पढ़ाई का दायित्व लिया।

असिस्टेंट लीडर ट्रेनर भारत स्काउट्स एंड गाइड्स छत्तीसगढ़ तथा जॉइंट आॅगेर्नाइजिंग सेक्रेट्री छत्तीसगढ़ स्काउट गाइड फैलोशिप के तापस राय ने तीसरी तक शिक्षा प्राप्त करने के बाद पारिवारिक परिस्थितियों के चलते अपनी पढ़ाई को बीच में ही छोड़कर सफाई कर्मचारी का काम करने वाली निशा जगत के द्वारा आगे पढ़ाई करने की इच्छा व्यक्त करने पर उसके पढा़ई के दायित्व का निर्वहन करने निर्णय लेते हुए उसे गोद लिया। उल्लेखनीय है कि रायपुर डिस्ट्रिक्ट स्काउट गाइड फैलोशिप के समस्त सदस्यों ने शपथली हुई है कि जिस कारणों के चलते कन्या को अपनी शिक्षा बीच में अधूरी छोडऩी पड़ी हो एसी जो भी बालिका पढऩे की इच्छुक हो उसे गोद में लेकर उसकी शिक्षा का दायित्व वे उठाएगें और बालिकाओं को आत्म निर्भर बनाने में हर कोशिश करेंगे।