भारत के प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान को लगाई लताड़, चीन उतरा पाकिस्तान के बचाव में

इस्लामाबाद
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान पर आतंकवाद को लेकर जमकर बरसे। इसके फौरन बाद पाकिस्तान का जिगरी दोस्त चीन उसके बचाव में उतर आया है। यहां तक कि आतंकवाद पर ऐक्शन लेने में नाकामयाब होने पर अंतरराष्ट्रीय आलोचना का शिकार हो चुके पाकिस्तान की पेइचिंग ने तारीफ कर डाली है। चीन ने वैश्विक आतंकवाद के खिलाफ सकारात्मक योगदान करने के लिए पाकिस्तान की सराहना की है।

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लिझियान झाओ ने कहा है, 'चीन अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद-निरोधी भूमिका निभाने के लिए पाकिस्तान की तारीफ करता है और आतंकी बलों पर कार्रवाई के लिए पाकिस्तान का समर्थन करता है। CPEC को डुबोने की कोशिशें असफल ही होंगी।' पेइचिंग खुद को पाकिस्तान का जिगरी दोस्त बताता है और पहले भी पाकिस्तान का बचाव करता आया है।

इससे पहले पीएम मोदी ने कहा था कि जैश-ए-मोहम्मद की कश्मीर पर कब्जा करने की कोशिशों को नाकाम किया गया है। उन्होंने कहा था, 'पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के चार आथंकियों का मारा जाना और हथियारों-विस्फोटकों का जखीरा मिलना जताता है कि तबाही मचाने के उनके मंसूबे को फेल कर दिया गया है।'

गौरतलब है कि पाकिस्तान के ऊपर FATF (फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स) की तलवार लटक रही है। अक्टूबर में हुई बैठक में FATF ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में ही रखने का फैसला किया था जबकि पाकिस्तान इससे निपटने के लिए छटपटा रहा है। ग्रे लिस्ट में रहने से पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय संस्थानों से आर्थिक मदद मिलना मुश्किल हो जाएगा। FATF ने कहा था कि टेरर फंडिंग रोकने को पाकिस्तान ने उसके दिए 27 कार्यबिंदुओं में से सिर्फ 21 पर काम किया था।