खिलावन दास का मकान का सपना हुआ साकार

बेमेतरा
महल हो या झोपड़ी अपना घर अपना होता है, हर व्यक्ति का एक सपना होता है कि छांव के लिए उसका एक खुद का घर हो। स्वयं का घर होने से कई सारे फायदे हैं अपना घर व्यक्ति को वित्तीय सुरक्षा देता है। एक घर को अपना घर कहने मे जो गौरव की अनुभूति होती है, इसी सपने को सरकार द्वारा साकार किया जा रहा है। अनुसुचित जाति वर्ग के लगभग 55 साल के खिलावन दास कुर्रे अब खुद के पक्के मकान में रहकर सुकुन की नींद ले रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) गरीब परिवारों के लिए लाभकारी सिद्ध हो रही है।

शासन की इस महती योजना से लाभान्वित नगर पचायत बेरला के वार्ड क्र.09 बेरला निवासी भूमिहीन खिलावन दास कुर्रे का पक्के मकान का सपना प्रधानमंत्री आवास योजना से साकार हुआ है। शासन की इस योजना से लाभ पाकर खिलावन दास बहुत खुश हैं। उल्लेखनीय है कि मेहनत मजदूरी से जीवन यापन करने वाला यह परिवार पहले खपरैल के कच्चे घर में रहता था। इस परिवार के सदस्यों ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि उनका खुद का एक पक्का मकान होगा। अब उनका सपना प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की वजह से हकीकत बन गया है। मिट्टी और खपरैल की छत वाले मकान में रहने वाला खिलावन दास अब सीमेंट कांक्रीट की छत वाले मकान का मालिक बन गया है। सरकार से आवास बनाने के लिए उन्हें 02 लाख 29 हजार रुपए की राशि स्वीकृत की गई थी। उनके घर में शौचालय भी बन गया है। उन्होंने केन्द्र एवं राज्य शासन के इस महती योजना के बारे में बताते हुए कहा कि हम जैसे गरीब परिवारों के लोगों के लिए यह योजना काफी सहारा बन कर आई है, जिसके कारण हमें पक्का मकान दिया गया है। खिलावन दास कुर्रे ने नगर पंचायत अध्यक्ष बेरला रासबिहारी कुर्रे, उपाध्यक्ष भारत भूषण साहू एवं जिला प्रशासन के प्रति प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत पक्का आवास का लाभ मिलने पर आभार व्यक्त किया है।