आज मिलेंगी लखनऊ के लोगों को तीन सौगातें

लखनऊ 
शहरवासियों को मंगलवार को दो नये फ्लाईओवरों की सौगात मिलेगी। हुसैनगंज से नाका हिंडोला और हैदरगंज तिराहे से मीना बेकरी फ्लाईओवर वाहन चालकों के लिए शाम 5.30 बजे चालू हो जाएगा। केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वीडियों कांफ्रेस के जरिये दोनों पुलों का लोकार्पण करेंगे। इससे पुराने लखनऊ की करीब पांच लाख आबादी को ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगी। 

केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के प्रतिनिधि दिवाकर त्रिपाठी ने बताया कि नवनिर्मित फ्लाईओवर चालू हो जाने से लोग हुसैनगंज से सीधे राजाजीपुरम जा सकेंगे। वाहन चालक हुसैनगंज चौराहे से फ्लाईओवर पर चढ़कर डीएवी कॉलेज के पास सड़क पर उतरेंगे और यहीं से थोड़ा आगे बने ऐशबाग पुल से होकर आगे जा सकेंगे। फिर हैदरगंज तिराहे से मीना बेकरी फ्लाईओवर पर चढ़कर राजाजीपुरम जा सकेंगे। उन्होंने बताया कि चरक फ्लाईओवर दिसम्बर तक बनकर तैयार हो जायेगा। 

मीना बेकरी फ्लाईओवर – एक नजर
पुल की लंबाई     908.05 मीटर 
निर्माण लागत     64 करोड़
स्वीकृति तिथि    06 जुलाई 2018
शिलान्यास        अगस्त 2018
इन क्षेत्रों को मिलेगा फायदा: राजाजीपुरम, मालवीय नगर, टिकैतगंज, तालकटोरा, आलमनगर। 

नाका हिंडोला फ्लाईओवर- 
पुल की लंबाई    1.64 किमी
निर्माण लागत     123.80 करोड़
स्वीकृति तिथि    06 जुलाई 2018
शिलान्यास        अगस्त 2018
इन क्षेत्रों को मिलेगा फायदा:  बांसमंडी, नाका हिंडोला, चारबाग, हुसैनगंज, मोतीनगर, राजेन्द्र नगर, आर्यनगर।

सीएम करेंगे कैंसर संस्थान की ओपीडी ब्लॉक का लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलावर को चक गंजरिया स्थित कैंसर संस्थान के ओपीडी ब्लॉक का लोकार्पण करेंगे। सीएम संस्थान में बनकर तैयार हो चुके वार्डो का भी शुभारंभ करेंगे। इसके अलावा आवासीय भवनों का शिलान्यास करेंगे। संस्थान की स्मारिका का विमोचन होगा। यह जानकारी कैंसर संस्थान के निदेशक डॉ. शालीन कुमार ने दी। गुणवत्तापरक चिकित्सा सुविधा का एएमयू हस्ताक्षर होगा। पांच कालीदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास से मुख्यमंत्री लोकार्पण करेंगे। डॉ. शालीन कुमार के मुताबिक 75 एकड़ भूमि पर 810 करोड़ रुपये से संस्थान विकसित किया जा रहा है। ओपीडी ब्लॉक बनकर पूरी तरह से तैयार है। 25 ऑपरेशन थिएटर हैं। शुरुआत में चार ऑपरेशन थिएटर चालू हाल में हैं। 18 विभागों में 25 डॉक्टर तैनात हैं। आउटसोर्सिंग पर करीब 54 नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ तैनात हैं। आयुष्मान योजना में पंजीकृत मरीजों का संस्थान में कैंसर का मुफ्त इलाज होगा।

54 बेड से होगी शुरूआत
अभी ओपीडी में 15 से 20 मरीज रोज आ रहे हैं। 15 से ज्यादा मरीजों के ऑपरेशन हो चुके हैं। 40 कैंसर पीड़ितों की रेडियोथेरेपी हो चुकी है। यहां पैथोलॉजी जांचें हो रही हैं। रेडियोलॉजी की सुविधा है। डॉ. शालीन के मुताबिक 54 बेड पर मरीजों की भर्ती होगी। इमरजेंसी मरीज भी इलाज हासिल कर सकेंगे।