यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू फिर पुलिस हिरासत में, शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी का कर रहे थे विरोध

 लखनऊ 
धारा 144 के उल्लघंन के मामले में उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने एक बार फिर हिरासत में ले लिया है। कांग्रेस नेताओं  ने बताया कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के चेयरमैन शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे लल्लू को पुलिस अधिकारियों ने पहले प्रदर्शन नहीं करने की चेतावनी दी। कहना नहीं मानने पर उन्हे हिरासत में ले लिया।  

लल्लू ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार विपक्ष की आवाज को अलोकतांत्रिक तरीके से दबाना चाहती है। कांग्रेस गरीब,किसान और मजदूरों के हक की लड़ाई लड़ रही है जो सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को रास नहीं आ रहा है। उन्होंने कहा कि आलम की गिरफ्तारी अवैध है जो सरकार के अलोकतांत्रिक रवैये का परिचायक है। सरकार को समझ लेना चाहिये कि कांग्रेसी लाठी से नहीं डरते। सरकार चाहे उन्हे जितनी बार गिरफ्तार करा ले लेकिन उनकी पार्टी दमनात्मक नीतियों के खिलाफ लड़ाई जारी रखेगी। 

बता दें कि पिछले साल 19 दिसम्बर को लखनऊ में सीएए और एनआरसी के विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़क उठी थी जिसमें आलम को आरोपी बनाया गया था। अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के कांग्रेसी नेता की गिरफ्तारी इसी संदर्भ में की गयी है। इससे पहले लल्लू को पिछली 21 मई को आगरा में बसों के फर्जी नम्बर देने और लाॅकडाउन के उल्लंघन के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। आगरा की एक अदालत में उन्हे निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया था लेकिन रिहा होने के तुरंत बाद लखनऊ की हजरतगंज पुलिस ने उन्हे गिरफ्तार कर लिया था। करीब 28 दिन गोसाईगंज जेल में रहने के बाद उन्हे 17 जून को रिहा कर दिया गया था।